Delhi Budget 2023: CM केजरीवाल की PM मोदी को चिट्ठी, ‘कृपया दिल्ली का बजट ना रोके’

Share

Delhi Budget 2023: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने PM मोदी को पत्र लिख दिल्ली के बजट को नहीं रोकने की अपील की है. उनका कहना है कि, “दिल्ली सरकार के बजट को केंद्र ने होल्ड पर रख दिया है.” जबकि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इन आरोपों का खंडन किया है.

Arvind-Kejriwals-letter-to-PM-Modi-Please-dont-stop-Delhi-budget-2023-24-341
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली, डिजिटल डेस्क || दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने PM मोदी को पत्र लिखकर दिल्ली राज्य सरकार के बजट को नहीं रोकने की अपील की है. दरअसल मंगलवार को दिल्ली विधानसभा में वित्त मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gehlot) राज्य सरकार का बजट 2023-24 (Delhi Budget 2023-24) पेश करने वाले थे. लेकिन मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अनुसार कल यानी सोमवार शाम को केंद्र सरकार (Central Government) ने दिल्ली राज्य सरकार के बजट को होल्ड पर रख दिया है.

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि, “देश के 75 सालों के इतिहास में पहली बार किसी राज्य का बजट रोका गया हो. माननीय आप हम दिल्ली वालों से इतने नाराज क्यों हैं? आपसे अनुरोध है, ‘कृपया दिल्ली का बजट ना रोकें.’ दिल्ली की जनता आपसे हाथ जोड़कर बजट पास करने का निवेदन कर रही है.”

यह भी पढ़ें: लंदन के भाषण पर सफाई देंगे राहुल, स्पीकर से बोलने की अनुमति मांगी

वहीं दिल्ली के वित्त मंत्री कैलाश गहलोत ने अपने एक बयान में केंद्रीय गृह मंत्रालय पर दिल्ली के बजट में गड़बड़ी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि, “बजट में देरी के लिए दिल्ली के मुख्य सचिव और वित्त सचिव की भूमिकाओं की जांच होनी चाहिए.” आपको बता दें, सभी राज्यों को अपना बजट पारित करवाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय के जरिए राष्ट्रपति से अनुमोदन (किसी के कार्य पर सहमति प्रकट करना) की आवश्यकता होती है.

जबकि केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने अरविंद केजरीवाल के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि, “लेफ्टिनेंट गवर्नर (LG) द्वारा उठाए गए कुछ प्रश्नों के कारण बजट (Delhi Budget 2023) पर अनुमोदन रोका गया था. दरअसल आधा खर्च करने के बावजूद केजरीवाल सरकार ने दो साल में प्रचार पर होने वाले खर्च को दोगुना कर दिया, जिस पर LG ने सफाई मांगी है. इसके अलावा एलजी ने आयुष्मान भारत जैसी कई अन्य केंद्रीय योजनाओं का दिल्ली के गरीबों को लाभ नहीं देने पर भी केजरीवाल सरकार से स्पष्टीकरण मांगा है, जिनके लिए सभी फंड केंद्र सरकार से आए थे.”

SPTVNEWS को फॉलो करें और खबरों से अपडेट रहे

1 Comment

  • केजरीवाल पुराना पापी है, ये राजनीतिक खेल है दोनों पार्टियों को सिर्फ अपनी रोटियां सेकनी है. उन्हें जनता से कोई मतलब नहीं है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

10 Superhit Movies Rejected by Kalki 2898 AD fame Prabhas Top 10 Perfect Honeymoon Destinations in India 9 Most Popular Veg Dishes in North India From Maidaan to Gullak Season 4: 10 OTT Releases to Binge-Watch This Weekend 10 Superhit Hindi blockbusters adapted from South India Cinema